Humein Bharat Kehte Hain Lyrics in Hindi - Stebin Ben

Humein Bharat Kehte Hain Lyrics from Hotel Mumbai is a Hindi song sung by Stebin Ben and written by Kumaar while the music is produced by Sunny Inder. In this post, you will find the lyrics and the music video of Humein Bharat Kehte Hain Song featuring Dev Patel and Anupam Kher.

Humein Bharat Kehte Hain Lyrics (Hindi - English) - Stebin Ben - Hotel Mumbai
Humein Bharat Kehte Hain Lyrics - Stebin Ben - Hotel Mumbai

Humein Bharat Kehte Hain Song Details

Song Title: Humein Bharat Kehte Hain
Singer: Stebin Ben
Music: Sunny Inder
Lyrics: Kumaar
Music Label: Zee Music Company
Movie: Hotel Mumbai
Director: Anthony Maras
Release Date: 29 November 2019

Humein Bharat Kehte Hain Lyrics in Hindi

मेहमान तोह रब के जैसा है
वोह चले तोह साँस बिछाते हैं
है लहू में रंग कुर्बानी का
जान दे कर जान बचाते हैं

अपना पराया हम ना देखें
कभी भी अपना ग़म ना देखें
दूसरों के दर्द में खड़े रेहते हैं

ओ ओ ओ ओ, ओ ओ ओ ओ ओ

हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं (X2)

कोई रोये तोह आँसू चुरा के
आँखों में हसी भर देते हैं

कोई रोये तोह आँसू चुरा के
आँखों में हसी भर देते हैं
मुश्किल में रेह के दूसरों का
आसान सफर कर देते हैं

ये मिट्टी कुछ ऐसी है
जख्मों पे मरहम जैसी है
इन्सानियत के हवाओ में
हम बहते हैं

हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं

तिलक के जो माथे पे
लगाया इस मिट्टी का तोह
रंग बसंती छाये
तुमने जो मांगा दिल
सीने से निकाल के
जान देने चले आए (X2)

हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं
हमें भारत केहते हैं (X2)

Written By: Kumaar

'Humein Bharat Kehte Hain' Video Song

Credits: Zee Music Company

Humein Bharat Kehte Hain Lyrics in English

Mehman Toh Rab Ke Jaisa Hai
Woh Chale Toh Saans Bichhate Hain
Hai Lahu Mein Rang Qurbani Ka
Jaan De Kar Jaan Bachate Hain

Apna Paraya Hum Na Dekhein
Kabhi Bhi Apna Gham Na Dekhein
Dusron Ke Dard Mein Khade Rehte Hain

O O O O, O O O O O

Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain (X2)

Koi Roye Toh Aansu Chura Ke
Aankhon Mein Hasi Bhar Dete Hain

Koi Roye Toh Aansu Chura Ke
Aankhon Mein Hasi Bhar Dete Hain
Mushkil Mein Reh Ke Dusron Ka
Aasaan Safar Kar Dete Hain

Ye Mitti Kuch Aisi Hai
Zakhmon Pe Marhum Jaisi Hai
Insaniyat Ke Hawao Mein
Hum Behte Hain

Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain

Tilak Ke Jo Maathe Pe
Lagaya Is Mitti Ka Toh
Rang Basanti Chhaye
Tumne Jo Maanga Dil
Seene Se Nikal Ke
Jaan Dene Chale Aaye (X2)

Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain
Humein Bharat Kehte Hain (X2)

Post a Comment